कौन हैं ये खिलाड़ी? जिनका डेब्यू कराए बिना ही Rohit Sharma ने ट्राफी थमा दी

Whom Rohit Sharma Handed Over The Trophy After Test Series Win Over Sri Lanka: भारत और श्रीलंका टेस्ट सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच बेंगलुरु में खेला गया. इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 238 रनों से मात देकर सीरीज को 2-0 से अपने नाम किया. दूसरा मैच तीसरे ही दिन खत्म हो गया. ऐसे में जब मैच के बाद अवार्ड सेशन हुआ तब कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने ट्रॉफी हासिल की और नए नवेले खिलाड़ी को दे दी. जिसने अभी तक टीम इंडिया के लिए डेबूय भी नहीं किया है.

दरअसल मैच सेरेमनी के बाद रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने जब ट्रॉफी ली तो वह प्रियंक पंचाल (Priyank Panchal) के पास पहुंचे और उन्हें ट्रॉफी दे दी. फोटो सेशन में प्रियांक पंचाल (Priyank Panchal) ट्रॉफी थामे हुए फोटो सेंटर में खड़े नजर आए. तो बाकी खिलाड़ी उनके इर्द-गिर्द थे. उनके अलावा यूपी के सौरभ कुमार (Saurabh Kumar) को भी ट्रॉफी को पकड़े हुए स्पॉट किया गया. सौरभ कुमार (Saurabh Kumar) को टेस्ट सीरीज में जगह दी गई थी. हालांकि उन्हें प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका नहीं मिला.

युवाओं को ट्रॉफी देने का सिलसिला महेंद्र सिंह धोनी के दौर से चला आ रहा है. महेंद्र सिंह धोनी ने सीरीज जीत के बाद ट्रॉफी को जूनियर या फिर नए खिलाड़ियों को देने की प्रथा शुरू की थी. विराट कोहली ने भी इस प्रथा को आगे बढ़ाया. तो रोहित शर्मा भी अब यही कर रहे हैं.

गौरतलब है कि ट्रॉफी पकड़े प्रियांक पंचाल को अभी टेस्ट सीरीज में डेब्यू करने का मौका नहीं मिला है. उन्हें साउथ अफ्रीका भी बुलाया गया था. प्रियंक पंचाल की उम्र 31 साल है. घरेलू क्रिकेट में वह हर साल बहुत ही ज्यादा रन बनाते हैं. फर्स्ट क्लास क्रिकेट में प्रियंक पंचाल ने 101 मैच खेल रखे हैं. इन मैचों में उन्होंने 45 से अधिक की औसत से 7000 से अधिक रन बनाए है. प्रियांक पंचाल के नाम घरेलू क्रिकेट में 24 शतक और 26 अर्धशतक दर्ज हैं.

कौन हैं सौरभ कुमार?

सौरभ कुमार बाघपत के रहने वाले हैं. सौरभ एक लेग स्पिनर हैं. साथ ही बल्लेबाजी भी अच्छी करते हैं. 2021 में इन्हें इंग्लैंड ले जाया गया था नेट बॉलर के तौर पर. इन्होंने घरेलू सीजन में हुए रणजी ट्राफी से लेकर सैयद मुश्ताक अली तक हर टूर्नामेंट में प्रभावित किया है. इन्होंने अभी तक 46 मैचों में 24.15 के औसत से 196 विकेट लिए हैं. वहीं बल्लेबाजी में भी अहम योगदान देने में कामयाब रहे हैं. 30 की औसत से वो 1572 रन बना चुके हैं.

2018-19 के रणजी सीजन में इन्होंने 10 मैचों में 51 विकेट ले लिए थे.

ये भी पढ़ें: इन 3 खिलाड़ियों के प्रदर्शन से हुए भारतीय कप्तान रोहित शर्मा गदगद, खूब की तारीफ

 

error: Content is protected !!