‘शमी, आवेश, मोहसिन, उमरान मुस्लिमों के कंधे में दम है इसलिए वो अच्छे गेंदबाज’: Wasim Akram

Wasim Akram: IPL भारतीय क्रिकेट की वो नगीना है. जो हर साल नए-नए सितारे लाता है. वैसे तो हमारे देश में टैलेंट की कमी नहीं थी. मगर पहले उसे पहचान नहीं मिल पाती थी. लेकिन IPL की शुरुआत के बाद से ही देश को लगातार हर साल एक से बढ़कर एक नगीने मिले हैं. IPL 2022 में भी कुछ ऐसे ही युवा चमके हैं जिनकी बात देश के हर कोने में हो रही है. इनमें शामिल हैं आवेश खान, मोहसिन खान, उमरान मलिक, तिलक वर्मा, यश दयाल और न जाने कितने ही नाम.

IPL 2022 के बाद एक बात तो साफ-साफ दिखाई देती है कि भारतीय टीम के पास पेस बैटरी का ठीक-ठाक बेंट स्ट्रेंथ पहले से ही तैयार बैठा है. इस सीजन बहुत से युवाओं ने अपनी गेंदबाजी से हर किसी को प्रभावित किया है.

इन्हीं सबके बीच अब पड़ोसी मुल्क के पूर्व तेज गेंदबाज वसीम अकरम (Wasim Akram) ने बेतुका बयान दिया है. वो कहते हैं कि भारतीय टीम हमेशा से ही मुस्लिम तेज गेंदबाजों पर डिपेंड करते हुए आई है. फिर चाहे इतिहास में देख लो तो जहीर खान आपको नजर आ जाएंगे तो स्विंग के किंग इरफान पठान भी मौजूद हैं.

Wasim Akram

वसीम अकरम (Wasim Akram) ने बेतुका सा लॉजिक देते हुए कहा है कि मुस्लिमों का खाना बचपन से ही नॉन-वेज पर आधारित होता है इसलिए उनके कंधे में ज्यादा जान होती है. जबकि हिंदूओं को जब तक अच्छा कोच मिलकर सलाह न दे वो नॉन-वेज टच नहीं करते हैं. जिसके चलते उनकी गति कम रह जाती है और कंधे भी कमजोर रह जाते हैं. जबकि हम सभी को पता है कि तेज गेंदबाजी करने के लिए कंधा मजबूत होना चाहिए. वसीम अकरम का मानना है कि नॉन-वेज खाने में वेज खाने से ज्यादा ताकत होती है.

जो कि मुस्लिम तेज गेंदबाजों को ज्यादा होता है. साथ ही उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम की चुटकी लेते हुए कहा है कि इस टीम में इतने मुस्लिम हो गए हैं कि ये टीम इंडिया कम टीम पाकिस्तान ज्यादा लगती है.

Read More: CSK को हार के बाद भी मिली इन 3 बातों की ख़ुशी,Dhoni ने इशारों में दिया बड़ा संकेत

error: Content is protected !!