‘बट्टा और जर्क’ मारता था Shoaib Akhtar उसे खुद ये पता था’ -Virender Sehwag

पूर्व भारतीय ओपनर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने पड़ोसी मुल्क के तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar Chucker) की खबर लेते हुए उनकी पोल टीवी पर खोल दी. वीरेंद्र सहवाग ने खुले शब्दों में क्रिकेट फैंस को बता दिया कि शोएब अख्तर बट्टा (Chucker) फेंका करते थे.

वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) ने बताया कि वो कोई महान गेंदबाज नहीं महज एक बट्टा फेंकने वाला पाकिस्तानी था. Sports18 नेटवर्क के ‘Home of Heroes’ शो के दौरान पाजी ने बताया कि अख्तर को खुद पता था कि वो जर्क मारता है. अगर उसे नहीं पता था तो क्या वो बता सकता है कि ICC ने उसे बैन क्यों किया था?

वीरू पाजी (Virender Sehwag) कहते हैं कि ब्रेट ली को जब मैं खेलता था तो उसका हाथ सीधा आता था. जबकि अख्तर हाथ से जर्क करता था. जिसके चलते गेंद कहां से आएगी ये कहना मुश्किल हो जाता था.

सहवाग ने शो के दौरान बताया कि उन्हें अपने करियर में शेन बॉन्ड को खेलने में सबसे ज्यादा दिक्कतें हुईं. क्योंकि उसकी गेंद पड़कर तेजी से अंदर की तरफ आती थी. तो वहीं उन्होंने बताया कि ब्रेट ली और शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar Chucker) सबसे तेज गेंदबाज थे जिन्हें उन्होंने अपने करियर में खेला.

पाजी बताते हैं कि मुझे ब्रेट ली को खेलने में डर नहीं लगता था. मगर शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar Chucker) दिमाग से सनकी इंसान था अगर उसे दो चौके मार दो तो पता नहीं होता था कि वो आपको बीमर या फिर पैर तोड़ने वाली यॉर्कर मार दे.

क्या होता है बट्टा, जर्क या फिर चकर

बट्टा गेंदबाजी वो होती है जिसमें गेंदबाज रेगुलर तरह से गेंदबाजी करने के बजाय हाथ को ला कर बीच में रोककर फिर से अपनी एनर्जी बटोर लेता है. जिस वजह से उसकी गेंदबाजी में गति बढ़ जाती है.

सहवाग बताते हैं कि हमारी टीम में उस वक्त सचिन, राहुल, गांगुली जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी थे. जो शतक मारते थे. इसलिए मुझे अपनी पहचान बनानी थी. क्योंकि वो शतक मारते थे मगर धीरे मारते थे. इसलिए मैंने तेज खेलना चालू किया जिससे मेरी खुद की पहचान उनसे अलग हो.

Read More: ‘शमी, आवेश, मोहसिन, उमरान मुस्लिमों के कंधे में दम है इसलिए वो अच्छे गेंदबाज’: Wasim Akram

error: Content is protected !!