कार्तिक के लिए आपस में भिड़े में गावस्कर और गंभीर, बोले- तुम कौन होते हो उसे बाहर निकालने वाले

टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जा रही 5 मैचों की टी20 सीरीज में विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने 3 साल बाद टीम में वापसी की है. जब से DK ने वापसी की है अच्छा कर रहे हैं. इन्होंने IPL की अपनी बेहतरीन फॉर्म को इंटरनेशनल लेवल पर भी बनाए रखा है. इस सीरीज में भारत पहले 2 मैचों में पिछड़ने के बाद अगले दो मैचों में टीम को जीत दिलाकर सीरीज को बराबर कर दिया.

जानकारी के लिए बता दें कि दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 15वें सीजन में आरसीबी के लिये बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 350 से ज्यादा रन बनाये और स्ट्राइक रेट भी 200 से ज्यादा की रही.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही 5 मैचों की टी20 सीरीज में भारतीय टीम 2-0 से पीछे चल रही थी. जिसके बाद ऋषभ पंत से कुछ नहीं हो रहा था. तो बाकी खिलाड़ियों ने जिम्मा उठाया. भारतीय टीम ने पहले विशाखापट्टनम में 48 रनों से जीत हासिल की तो वहीं पर राजकोट के मैदान पर 82 रनों से जीत हासिल कर सीरीज में 2-2 से बराबरी कर डाली. राजकोट के मैदान पर खेले गये इस मैच में भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 169 रनों का स्कोर खड़ा किया जिसमें दिनेश कार्तिक ने 55 रनों की अहम पारी खेली. इसकी वजह से उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया.

इस मैच में दिनेश कार्तिक ने महज 26 गेंदों में 9 चौके और 2 छक्के लेकर अपने इंटरनेशनल T20 करियर का पहला फिफ्टी पूरा किया. दिनेश कार्तिक की शानदार फॉर्म को देखकर के कई क्रिकेट पंडित और फैन्स ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी20 विश्वकप 2022 में उनकी वापसी को लेकर अटकलें लगा रखे हैं.

गौतम गंभीर का बयान

वहीं अब पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने बड़ा बयान दे दिया दिनेश कार्तिक को लेते हए. ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले टी20 विश्वकप में दिनेश कार्तिक को मौका देने का कोई मतलब नहीं है. दिनेश कार्तिक को टीम की प्लेइंग 11 में जगह ही नहीं दी जायेगी.

गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) द्वारा दिया गया ये बयान भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज कॉमेंटेटर सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) को रास नहीं आया है.

सुनील गावस्कर का जवाब

सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने इस पूर्व सलामी बल्लेबाज पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधते हुए कहा कि दिनेश कार्तिक उस तरह के खिलाड़ी हैं जिसे भारतीय टीम को सबसे ज्यादा जरूरत है.

सुनील गावस्कर ने गौतम को जवाब देते हुए कहा कि खिलाड़ियों का चयन उनकी फॉर्म को लेकर होता है न कि नाम को लेकर. सुनील कहते हैं कि मुझे नहीं पता कि लोगों को कैसे पता चल जाता है कि वो टीम में नहीं खेलने वाले हैं. अगर दिनेश कार्तिक नंबर 6 या 7 पर खेलते नजर आयेंगे तो आप उनसे लगातार अर्धशतक आने की उम्मीद नहीं कर सकते.

स्टार स्पोर्टस चैनल पर बात करते हुए गावस्कर ने कहा, ‘मुझे पता है कि लोग इस बारे में बात कर रहे हैं कि उन्हें टीम में शामिल करने का क्या मतलब है जब उन्हें खिलाया जाना ही नहीं है. मगर क्या ये बात बता सकते हैं? कि आपको कैसे पता वो आगे चलकर मैच में नहीं खेलने वाला है. यह वो खिलाड़ी हो सकता है जिसकी आपको दरकार हो. आप खिलाड़ी की फॉर्म को देखते हैं न कि उसके नाम को देखकर उसका सेलेक्शन करते हैं.’

सुनीव गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने कहा कि ‘दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) को बहुत ज्यादा मौके नहीं मिलते हैं, खासतौर से नंबर 6 और 7 पर बैटिंग करते हुए. आप उससे यह उम्मीद नहीं कर सकते कि वो इस क्रम पर खेलकर हर रोज अर्धशतक (Fifty) लगाये. अगर वो आपको 20 गेंद में अच्छे 40 रन नियमित रूप से दे रहे हैं तो उससे बेहतर क्या चाहिये. उन्होंने ऐसा ही कारनामा बार-बार करके दिखाया है.

यही कारण है कि वो विश्वकप की टीम में शामिल होने के सबसे मजबूत दावेदारों में से एक हैं. जिस तरह से उन्होंने चौथे मैच में रन बनाये है, भारतीय टीम (Team India) मुश्किल में नजर आ रही थी. आप आदमी की उम्र पर मत देखिये बल्कि उसके प्रदर्शन पर नजर डालें.’

Read Also: ऋतुराज की जगह टीम में शामिल हुआ ये खतरनाक खिलाड़ी, ईशान का होगा ओपनिंग पार्टनर

 

error: Content is protected !!