Mumbai Indians का कप्तान बनना मेरे लिए ‘गेम चेंजर’ साबित हुआ, रोहित शर्मा का बयान ो

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) ने एक इंटरव्यू में अपने क्रिकेटिंग करियर को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि 2013 में मुंबई इंडियंस का कप्तान बनने के बाद से उनके लिए सबकुछ बदल गया और वो चीज उनके करियर के लिए गेम चेंजर साबित हुई।

मुंबई इंडियंस आईपीएल की सबसे सफल टीम है। इस टीम ने अभी तक पांच टाइटल जीते हैं और ये पांचों ही टाइटल रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम ने अपने नाम किया है। 2013 में रिकी पोंटिंग की जगह रोहित शर्मा को मुंबई इंडियंस का कप्तान नियुक्त किया गया था और उन्होंने अपने पहले ही सीजन में टीम को चैंपियन बना दिया और इसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा।

इसके बाद रोहित शर्मा का कद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी काफी बढ़ गया। उन्होंने तीन दोहरे शतक लगाए और कई मैचों में टीम इंडिया को जीत दिलाई। अब वो तीनों ही फॉर्मेट में इंडियन टीम के कप्तान हैं।

रोहित शर्मा के मुताबिक मुंबई इंडियंस का कप्तान बनना उनके लिए गेम चेंजर साबित हुआ। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि 2013 में जब भारतीय टीम के लिए उन्होंने ओपन करना शुरू किया तो उससे भी एक बड़ा बदलाव आया।

कप्तानी की वजह से मेरे अंदर काफी बड़ा बदलाव आया – रोहित शर्मा

स्टार स्पोर्ट्स पर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा ‘ 2013 में जब मैंने भारत के लिए ओपनिंग करना शुरू किया था तो वो मेरे लिए एक टर्निंग प्वॉइंट साबित हुआ। उसी साल मैं मुंबई इंडियंस का कप्तान बना। मेरे लिए वो गेम चेंजर साबित हुआ। कप्तानी की वजह से मेरे एट्टीट्यूड में काफी बदलाव आया। मैं गेम को और ज्यादा अच्छी तरह से समझने लगा और अपनी टीम के खिलाड़ियों को अच्छी तरह से समझने लगा। कप्तान बनने के बाद मुझे अन्य खिलाड़ियों और खुद से काफी कुछ सीखने का मौका मिला।’

error: Content is protected !!