‘वो कुंबले का रिकॉर्ड भी खा जाएगा’ Ashwin पर Kapil Dev ने कर दी बड़ी भविष्यवाणी

Kapil Dev predicted that Ashwin will break Anil Kumble’s Record: मोहाली में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारत ने श्रीलंका को एक पारी और 222 रनों से हरा दिया. कप्तान के तौर पर रोहित शर्मा का यह पहला टेस्ट मैच था. पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद भारत ने सीरीज में 1-0 की अजय बढ़त बना ली है. इस मैच में भारत की तरफ से बाएं हाथ के ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा ने शानदार नाबाद 175 रन बनाए. साथ ही साथ गेंदबाजी में भी 9 विकेट झटके. वहीं टीम में मौजूद दूसरे ऑल राउंडर रविचंद्रन अश्विन (R. Ashwin) ने भी बल्ले से शानदार 61 रन बनाए और गेंदबाजी से 6 विकेट अपने नाम किए. इसके चलते भारतीय टीम ने एक पारी और 222 रनों की विशाल जीत हासिल की.

ऑलराउंडर्स के नाम रहा ये मैच

इस मैच में भारतीय खिलाड़ियों ने कई कीर्तिमान अपने नाम किए. टीम इंडिया के दिग्गज बन चुके रविचंद्रने अश्विन (R. Ashwin) ने भी इस मैच में कई कीर्तिमान अपने नाम किया. उन्होंने कपिल देव के 434 विकेट लेने के रिकॉर्ड को ध्वस्त कर दिया. टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में अब रविचंद्रन अश्विन नौवें नंबर पर आ गए हैं.

भारत को 1983 में पहला विश्व कप जिताने वाले कपिल देव (Kapil Dev) ने टेस्ट क्रिकेट में 434 विकेट हासिल किए थे. तो वही रविचंद्रन अश्विन ने रविवार को श्रीलंका के खिलाफ दूसरी पारी में चरिथ असलंका को आउट करते ही यह रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिया. इतना ही नहीं उन्होंने श्रीलंका के बाएं हाथ के स्पिनर रंगना हेराथ के 433 विकेट के रिकॉर्ड को भी पीछे छोड़ दिया. टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले स्पिनर के मामले में अब नंबर चार पर हैं अश्विन. अश्विन के शानदार कारनामे के बाद अब कपिल देव ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है.

क्या बोले कपिल देव

मिड डे को दिए गए इंटरव्यू में कपिल देव ने कहा कि रविचंद्रन अश्विन (R. Ashwin) के लिए यह बहुत बड़ी उपलब्धि है. खासतौर पर तब जब पिछले कुछ सालों में उन्हें ज्यादा मौके नहीं दिए गए. कपिल देव कहते हैं कि उन्हें काफी खुशी है. कपिल देव (Kapil Dev) कहते हैं कि मैंने काफी लंबे समय तक ये रिकॉर्ड अपने नाम रखा है. मैं अब क्यों दो नंबर का पायदान रखूं. मैं चाहता हूं कि नए खिलाड़ी आते जाएं और पुराना रिकॉर्ड तोड़ते जाएं. क्योंकि इसका मतलब ये होगा कि भारतीय क्रिकेट अच्छा कर रहा है.

आपको बताते चलें कि कपिल देव भारत के पहले ऐसे टेस्ट खिलाड़ी थे जिन्होंने चार सौ से अधिक विकेट लिए थे. उन्होंने या रिकॉर्ड अपने नाम 10 साल से भी ज्यादा तक रखा. इसके बाद अनिल कुंबले ने साल 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ उनका ये रिकॉर्ड तोड़ दिया. अब उसके 18 साल बाद अश्विन ने कपिल को पीछे छोड़ दिया वो सिर्फ अब अनिल कुंबले से ही पीछे रह गए हैं.

कई और रिकॉर्ड तोड़ेगा अश्विन

कपिल देव का मानना है कि अश्विन अभी मात्र 35 साल के हैं. उनके पास अनिल कुंबले के रिकॉर्ड को तोड़ने का अच्छा मौका है. कपिल देव आगे कहते हैं कि अगर वो अनिल कुंबले का रिकॉर्ड नहीं भी तोड़ पाता है तो 500 विकेट तो जरूर हासिल करेगा.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Ashwin (@rashwin99)

अश्विन ने इंस्टा पर लिखा था भावुक पोस्ट 

गौरतलब है कि रविचंद्रन अश्विन ने कपिल देव के 434 विकेट लेने का रिकॉर्ड जैसे ही तोड़ा. वैसे ही वो टॉप 10 गेंदबाजों की लिस्ट में आ गए जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट ले रखे हैं. ऐसा कारनामा करने के बाद अश्विन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक भावुक संदेश लिखा.

उन्होंने लिखा है कि 28 साल पहले मैंने महान कपिल देव को दुनिया के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों के लिस्ट में देखा था. या देखकर मुझे बहुत ज्यादा खुशी हुई थी. मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं एक ऑफ स्पिनर बनूंगा साथी अपने देश के लिए खेलूंगा. यह तो बिल्कुल भी नहीं सोचा था कि मैं टॉप 10 गेंदबाजों के लिस्ट में आ पाऊंगा. आज मैं बहुत ज्यादा खुश हूं साथी अपने खेल का एहसानमंद हूं, जिसने मुझे इतना अच्छा मौका दिया.

ये भी पढ़ें: ‘विश्व कप जीताया हैट्रिक ली, 3 बार 5 विकेट भी लिए फिर भी हुआ दरकिनार’ छलका दर्द

English Summary

Kapil Dev thinks R. Ashwin will break all the records of spin bowling.

error: Content is protected !!