Jasprit Bumrah: 5 साल की उम्र में पिता का उठ गया था साया, जूते की दुकान पर रोती मां से किया था वादा

जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की अगुवाई में कल से भारत और इंग्लैंड (Ind vs Eng) के बीच पांचवा टेस्ट मैच खेला जाएगा.

इस टेस्ट मैच के ठीक पहले ही भारतीय कप्तान रोहित शर्मा को Covid-19 हो गया था. इसी वजह से BCCI को टीम इंडिया का नया कप्तान चुनना पड़ा. BCCI ने जस्सी को कप्तान बना वो कारनामा कर दिया जिसके लिए इस लड़के को अब दशकों तक जाना जाएगा. आपको बता दें कि जसप्रीत बुमराह भारतीय टीम के 36वें टेस्ट कप्तान बनने जा रहे हैं. 28 साल के जस्सी ने अभी तक टेस्ट क्रिकेट में 29 टेस्ट मैच में 123 विकेट झटके हैं.

Jasprit Bumrah Father.
Jasprit Bumrah Father.

Jasprit Bumrah के पिता का 5 साल की उम्र में हो गया था निधन

कम लोगों को ही ये बात पता है कि इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना नाम बनाने से पहले जसप्रीत बुमराह की जिंदगी काफी ज्यादा मुश्किलों भरी रही है. इनके सिर से पिता का साया 5 साल की उम्र में ही उठ गया था. जस्सी की मां ने उन्हें अकेले पाला पोसा है. उनकी मां ने उन्हें इस काबिल बना दिया जिससे वो देश के लिए आज बहुत नाम कमा रहे हैं. Wicketlo से बात करते हुए उनकी मां रो पड़ीं.

Daljeet Bumrah with Kids.
Daljeet Bumrah with Kids.

जस्सी की मां ने सुनाए मुश्किल भरे दिनों की कहानी

जस्सी की मां का नाम दलजीत बुमराह है. वो कहती हैं कि मैं उस वक्त दोपहर में सोना पसंद करती थी. लेकिन तभी ये लड़का जमकर उन्हें तंग किया करता था. वो कहती हैं कि इस लड़के ने मुझे बचपने में बहुत परेशान किया है. जब वो सिर्फ पांच साल का था तभी उन्होंने अपने पिता को खो दिया था.

Boom Boom Bumrah
Boom Boom Bumrah

पापा के निधन के बाद टूट गए थे Jaspreet Bumrah

जसप्रीत बताते हैं कि उनके पापा के निधन के बाद पैंसों की किल्लत हो गई थी. वो कुछ भी नहीं खरीद पाते थे. वो बताते हैं कि तब उनके पास बस एक टी-शर्ट और एक जोड़ी जूते ही थे. वो उसे रोजाना धुल कर पहना करते थे. वो बताते हैं कि जब मैं छोटा था तो क्रिकेट की कहानियां बहुत सुनता था. इसलिए ही मैंने क्रिकेट खेलना शुरू किया.

पुराने दिनों को याद कर भावुक हो जाती हैं दलजीत बुमराह

दलजीत बुमराह बताती हैं कि एक बार वो और जस्सी नाइक के शो रूम में गई थीं. जसप्रीत बुमराह के लिए शूज लेने के लिए उस वक्त मां के पास पैसे नहीं थे. तब जसप्रीत ने उनसे कहा था कि मां मैं एक दिन ये जूते जरूर खरीदूंगा. मां बताती हैं आज उसके पास बहुत से जूते हैं.

Cricketer
Cricketer.

Read Also: 5वें टेस्ट के लिए BCCI ने बुमराह को घोषित किया कप्तान, ऐसी होगी प्लेइंग-11

error: Content is protected !!