IPL: Jadeja को खराब कप्तान बोलने वाले Dhoni ने खुद 6 में से 4 मैच हरवा दिया

IPL 2022 में अगर कोई खिलाड़ी सबसे बड़बोला साबित हुआ है तो वो है एम एस धोनी (MS Dhoni). इन्होंने पहले रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को कप्तानी दी. 8 मैच बाद छीन भी ली. वो भी इसलिए क्योंकि जड्डू की कप्तानी में टीम 8 में से सिर्फ दो ही मैच जीत पाई थी.

जब एम एस धोनी (MS Dhoni) ने टीम की बागडोर दोबारा संभाली तो फैंस को लगा लो भईया अब तो चमत्कार होगा. थल्ला हमारे हमको 6 मैच लगातार जीता देंगे और प्लेऑफ (IPL) में पहुंचा देंगे. मगर असल में IPL की कहानी एक ही है. जितनी अच्छी टीम नीलामी में खरीदोगे उतना ही अच्छा वो खेल दिखाएगी. इस बार की नीलामी में चेन्नई सुपर किंग्स ने कुछ बड़ी गलतियां कर दी थीं. जो सीजन के शुरुआत होने से पहले क्रिकेट पंडितों ने उजागर कर दिया था. उसके बाद दीपक चाहर भी चोटिल हो गए.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Chennai Super Kings (@chennaiipl)

आपको बता दें कि एम एस धोनी की कप्तानी में भी अब चेन्नई इस सीजन में 6 में से 4 मैच हार चुकी है. एम एस पहली कुछ हार का जिम्मेदार तो रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को ठहरा दिया था कि कप्तानी परोस कर नहीं दी जाती है. लेकिन अब बाकी हार पर एम एस धोनी क्या बोलेंगे? जी, हम बताते हैं कुछ नहीं.

एम एस धोनी (MS Dhoni) इस पूरे सीजन एक बार फिर से कोई ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाए हैं. उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से बस एक मैच जीताया है मुंबई के खिलाफ जब उन्होंने आखिरी चार गेंदों पर 16 रन बना दिए थे. इसके अलावा उनके खाते में कुछ खास पारियां नहीं हैं. उनसे ज्यादा बार तो IPL 2022 में राहुल तेवतिया, राशिद खान और आर. अश्विन बल्ले से अपनी टीम को दो-दो मैच जीता चुके हैं. ऐसे में कहना गलत नहीं होगा कि धोनी अगर कप्तान न होते तो कोई टीम उनमें दिलचस्पी नहीं दिखाती.

error: Content is protected !!