आजाद मैदान के बाहर गोलगप्पे बेचकर अपना पेट भरता था ये प्लेयर, IPL ने बदल दी किस्मत

IPL 2022: इंडियन प्रीमियर लीग पूरे विश्व में सबसे ज्यादा देखी जाने वाली लीग है. इस लीग को हर क्रिकेट प्रेमी पसंद करता है. दुनिया के किसी भी कोने में रहना वाला खिलाड़ी ये लीग खेलना चाहता है. इस लीग में खिलाड़ियों को सिर्फ पहचान ही नहीं बल्कि पैसे भी जबर मिलते हैं. इतने की आपकी पूरी जिंदगी निकल जाए. Read More: छोटा समझ Ishan Kishan को जब Rohit Sharma ने दे डाली मां की गाली, रोने लगा…

देश में ऐसे कई खिलाड़ी है जिनकी किस्मत आईपीएल ने बदल कर ही रख दी है. ये खिलाड़ी पहले इतने ज्यादा आर्थिक मजबूर हुआ करते थे कि इनका घर भी बड़ी मुश्किल से चलता था. मगर आईपीएल ने इनकी लाइफ बदलकर रख दी.

Left hand batsmen
Left hand batsmen

राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के लिए ओपनिंग करने वाले यशस्वी जायसवाल (Yashasvi Jaiswal) की भी ऐसी ही कुछ कहानी है. इन्हें रॉयल्स ने 4 करोड़ में खरीदा है. मगर एक वक्त ऐसा हुआ करता था. जब यशस्वी जायसवाल को मैदान के बाहर पानी पूरी बेचना पड़ता था. राजस्थान का ये खिलाड़ी उत्तर प्रदेश के भदोही का रहने वाला है. इनके पिता चाट और पानी पूरी की एक दुकान लगाया करते हैं. (IPL)

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Yashasvi Jaiswal (@yashasvijaiswal28)

यशस्वी 10 साल की उम्र से ही एक क्रिकेटर बनना चाहता था. क्रिकेट खेलने के ही लिए इनका परिवार उत्तर प्रदेश से मुंबई चला गया था. मुंबई मे ही ये खिलाड़ी आजाद मैदान के बाह गोलगप्पे और फल बेचता था. साथ ही प्रैक्टिस भी किया करता था. हालांकि पैसों की कमी के चलते कई बार इन्हें भूखे पेट भी सोना पड़ा था. मगर मेहनत के आगे हर कोई झुकता है. इन्होंने आज आईपीएल तक का सफर तय कर लिया है.

यशस्वी अंडर-19 में अच्छा खेल दिखाकर नजर में आए थे. इन्होंने अंडर-19 विश्व कप में 400 रन बनाए थे. इस दौरान उन्होंने एक शतक और दो पचासे बनाए थे. उन्हें इस टूर्नामेंट का मैन ऑफ द टूर्नामेंट भी चुना गया था.

error: Content is protected !!