प्रवीण आमरे हुए बैन तो ऋषभ पंत को नहीं मिलेगी अब एक चवन्नी, वाट्सन ने बैन से बचाया

Rishabh Pant Controversy and Penalities: ऋषभ पंत ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हुए मुकाबले में क्रिकेट की गरिमा को ठेस पहुंचाया है. उनके इस रवैये पर कई बड़े दिग्गजों ने भी उनपर सवाल किया है. तो वहीं अब उन्हें अपनी गलती का बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ रहा है.

पीटीआई के द्वारा जो खबर आई है उसके मुताबिक ऋषभ पंत (Rishabh Pant), शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) और कोच प्रवीण आमरे (Praveen Amre) पर आचार संहिता का उल्लंघन का आरोप लगा है. जिसके चलते उनपर जुर्माना भी थोपा गया है. कोच प्रवीण आमरे को एक मैच के लिए बैन किया गया है. तो ऋषभ पंत की पूरी मैच फीस और शार्दुल की 50 प्रतिशत मैच फीस काटी गई है.

मैच के बाद खिलाड़ियो ने मान ली अपनी गलतियां

ऋषभ पंत ने बीसीसीआई के आगे अनुच्छेद 2.7 के तहत लेवल दो का अपराध मान लिया है साथ ही जुर्माने पर भी मंजूरी दी है. शार्दुल ने भी 2.8 अनुच्छेद को स्वीकार किया है. तो वहीं कोच प्रवीण आमरे ने अनुच्छेद 2.2 के तहत लेवल दो को स्वीकार करके एक मैच का बैन मान लिया है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Rishabh Pant (@rishabpant)


सूत्रों के हवाले से जो खबर आ रही है उसके मुताबिक ऋषभ पंत पर भी एक मैच का बैन लगने वाला था. मगर सहायक कोच शेन वाट्सन (Shane Watson) की दलीलों की वजह से ऋषभ पंत पर ये बैन नहीं लगा है. ऐसे में दिल्ली कैपिटल्स और ऋषभ पंत दोनों को ही शेन वाट्सन (Shane Watson) का शुक्रगुजार होना चाहिए.

Read More: कौन हैं Rinku Singh? कभी दफ्तरों में लगाते थे झाड़ू…अब IPL ने बदली जिंदगी

हालांकि सोशल मीडिया पर कुछ लोग ऋषभ पंत को सही बात रहे हैं तो कुछ गलत. ऐसे में फैंस में तकरार देखने को मिली है. कुछ फैंस का मानना है कि अगर यही भारतीय टीम के साथ होता तो कोई भी पंत को गलत नहीं बताता.

क्या था पूरा मामला…

दरअसल, दिल्ली कैपिटल्स और राजस्थान रॉयल्स के बीच खेले गए मुकाबले में दिल्ली को जीत के लिए आखिरी ओवर में 36 रन चाहिए थे. तभी रोवमन पोवेल ने 3 गेंदों पर 3 छक्के लगा दिए. मगर जो तीसरी गेंद थी वो देखने में नो-बॉल लग रही थी. मगर फील्ड अंपायर ने इसे थर्ड अंपायर से पूछना भी जरूरी नहीं समझा. जिस वजह से ऋषभ पंत काफी ज्यादा गुस्सा हो गए और अपने बल्लेबाजों को वापस बुलाने लगे इसी बात पर बवाल मच गया.

 

 

error: Content is protected !!