‘कश्मीरी उमरान बच्चे स्पीड कम करके रिटायर हो जाओ, मुझे नफरत है ऐसी बॉलिंग से’-ग्लेम मैक्ग्रा

Glen Mcgrath on Umran Malik Speed: अगर आपको याद हो तो भारत को 2011 विश्वकप जीताने वाला एक गेंदबाज था जिसका नाम था मुनाफ पटेल. उन्हें काफी तेज गेंदबाजी करने के लिए जाना जाता था. मगर जल्द ही उनपर ग्लेन मैक्ग्रा बनने का भूत सवार हो गया. जिस वजह से उन्होंने अपनी गति कम कर ली. मुनाफ का कहना था कि मैक्ग्रा खुद लाइन लेंथ के गेंदबाज हैं और इसी वजह से उनको सफलता मिलती है। तो क्यों ना उनके नक्शेकदमों पर चला जाए. देखते ही देखते वो तेज गेंदबाज से मीडियम पेसर बॉलर बन गए.

मीडियम पेसर मुनाफ पटेल को जल्द ही भुला दिया गया. उनके करियर का अंत हो गया. इसी कड़ी में अब ग्लेन मैक्ग्रा ने अपना बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि जब गेंदबाज लाइन और लेंथ के लिए अपनी गति से समझौता कर लेता है तो वो गेंदबाज उन्हें एकदम पसंद नहीं आता है.

मैक्ग्रा बोले गेंदबाजों को गति नहीं सिखाई जा सकती है

वो कहते हैं कि तेज गेंदबाजों की खासियत ही उनकी गति होती है. उन्होंने उमरान मलिक के बारे में भी अपनी बात की है. जो लगातार 150 की गति से गेंदबाजी करते हैं. फिल्हाल अभी वो भारतीय टीम से बाहर चल रहे हैं.

गति कम करने का कोई मतलब ही नहीं है

ग्लेन मैक्ग्रा कहते हैं कि लाइन और लेंथ हासिल करने के लिए गति कम करने के बजाए गेंदबाजों को मेहनत करने की आवश्यकता होती है. उन्हें कड़ी मेहनत करनी चाहिए न कि अपनी गति कम. मैंने इस तरह से ही 949 विकेट लिए थे.

मैक्ग्रा ने भारत के युवा तेज गेंदबाज उमरान मलिक के बारे में भी बात की जिन्होंने खुद सटीकता के लिए संघर्ष किया है, लेकिन वह अभी भी अपने करियर के शुरुआती चरण में हैं. ऑस्ट्रेलियाई ने खुलासा किया कि उन्होंने भारतीय तेज को ज्यादा नहीं देखा है, लेकिन उनकी तेज गति से प्रभावित हैं.

मैक्ग्रा बोले मुझे नफरत है ऐसी गेंदबाजी से

इस पूर्व तेज गेंदबाज ने क्रिकेट डॉटकॉम से बातचीत के दौरान कहा कि मैंने उमरान मलिक को ज्यादा नहीं देखा है. हां सुना जरूर है. आप किसी भी गेंदबाज को 150 की गति से गेंदबाजी करना नहीं सिखा सकते हैं. मुझे ऐसे गेंदबाज से नफरत है जो लाइन और लेंथ के लिए अपनी गति कम कर लेते हैं. कोई व्यक्ति जो 150 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक की गति से गेंदबाजी करता है, वह बहुत कम देखा जाता है.

Glen Mcgrath on Umran Malik Speed

error: Content is protected !!