Ravi Shastri जैसा कोच कभी नहीं बन पाएंगे Rahul Dravid, एक साल में हरवाए 3 जीते मैच

Rahul Dravid और Jasprit Bumrah की जोड़ी ने पिछले साल Ravi Shastri द्वारा की गई मेहनत पर पानी फेर दिया है. जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) और जो रूट (Joe Root) ने भारतीय टीम की असली औकात उसे दिखा दी है. एजबेस्टन में खेला जा रहा पांचवा टेस्ट खत्म हो चुका है. इंग्लैंड ने 378 रनों का टारगेट मात्र 76 ओवर में चेस करके विश्व रिकॉर्ड बना दिया है. इंग्लैंड ये टारगेट 3 विकेट के नुकसान पर ही हासिल कर लिया.

साउथ अफ्रीका में भी हारा था घमंडी भारत

आपको बता दें कि कोच राहुल द्रविड़ की कोचिंग में ऐसा पहली बार नहीं हुआ है. जब भारतीय टीम चौथी पारी में जीता मैच हार गई हो. इससे पहले साउथ अफ्रीका के खिलाफ हुई टेस्ट सीरीज में भी भारत ने सीरीज का दूसरा और तीसरा मैच अच्छा टारगेट बनाकर गवां दिया था. जिसकी वजह से वो सीरीज जीतने में कामयाब नहीं हो पाया था. तब भी राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की कमजोर कोचिंग ही वजह बनी थी.

क्या बोले Ravi Shastri

एजबेस्टन में स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट टीम का हिस्सा रहे शास्त्री ने कहा, “मुझे लगता है (यह) निराशाजनक था, क्योंकि वे इंग्लैंड को इस मैच से बाहर कर सकते थे.”

“उन्हें दो सत्रों में बल्लेबाजी करने की जरूरत थी और मुझे लगा कि वे रक्षात्मक थे, वे आज डरपोक थे, खासकर लंच के बाद.

केविन पीटरसन ने भी लगाई लताड़

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने भी भारत के कार्यवाहक कप्तान जसप्रीत बुमराह की रणनीति पर सवाल उठाते हुए कहा कि उन्होंने फील्डिंग भी रक्षात्मक तरीके से सजाई और बल्लेबाजों के लिए स्ट्राइक रोटेट करना आसान बना दिया.

Read Also: इंग्लैंड ने तोड़ा भारत का गाबा घमंड, ‘Jonny’ के आगे टीम इंडिया बना ‘Tommy’

error: Content is protected !!