‘400 रन बनाने के बाद भी मुझे नहीं चुना जा रहा है, तो मेरा काम है मैं 600 रन बनाऊं’

आईपीएल एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जिसने कई युवा खिलाड़ियों को मौका दिया और टीम इंडिया में जगह बनाने में मदद की। नीतीश राणा (Nitish Rana) उन प्रतिभाशाली क्रिकेटरों में से एक हैं जिन्हें पिछले साल भारत के लिए डेब्यू करने का मौका मिला था। बीसीसीआई ने लिमिटेड ओवरों की सीरीज के लिए श्रीलंका में दूसरी-स्ट्रिंग टीम भेजी थी जिसमें नीतीश राणा का नाम शामिल था और उन्हें भारत के लिए खेलने का मौका मिला।

राणा ने एकदिवसीय सीरीज में डेब्यू किया जहां नंबर 7 पर बल्लेबाजी करते हुए 14 गेंदों में 7 रन बनाए। वहीं T20I सीरीज में उन्होंने दो मैच खेले जहां नंबर 5 पर बैटिंग करते हुए उनके बल्ले से 15 रन निकले। उनका बेस्ट स्कोर 9 का था। राणा को फिर कभी टीम इंडिया के लिए नहीं चुना गया। लेकिन, अब कोलकाता नाइट राइडर्स के स्टार बल्लेबाज की निगाह 2023 विश्व कप के लिए भारतीय टीम में वापसी करने पर है।

इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में राणा ने कहा, ‘मेरे हाथ में रन बनाना और अपने खेल में सुधार करना है। उम्मीद है कि मैं इस सीजन में और रन बनाऊंगा। अगर कोई मुझे 400 रन (आईपीएल सीजन में) बनाने के बाद नहीं चुन रहा है तो मेरा काम है कि मैं 600 रन बनाऊं।’

नीतीश राणा ने आगे कहा, ‘एक क्रिकेटर के तौर पर मैं हमेशा इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने के मौके चाहता हूं। मैं उस बैटिंग पोजिशन में सहज नहीं था जो मुझे मिली थी (जुलाई 2021 में श्रीलंका के खिलाफ)। लेकिन मैं कोई बहाना नहीं देना चाहूंगा। मैं अपकमिंग आईपीएल में 500+ रन बनाने की उम्मीद करता हूं ताकि चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित करूं।’

बता दें कि 2016 से आईपीएल का हिस्सा रहे राणा ने आईपीएल 2022 में 361 रन, 2021 में 383 और 2020 में 352 रन बनाए। बाएं हाथ का बल्लेबाज भारत के चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित करने के लिए अगले सीजन में 500 रन बनाना चाहता है।

 

error: Content is protected !!