Harbhajan ने खोल दिया राज, MS Dhoni की इस बड़ी सलाह से पस्त हुआ था पाकिस्तान

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच हमेशा से ही रोमांच होता है. फैंस इसे लेकर बहुत ही ज्यादा उत्साहित रहते हैं. भारत ने वर्ल्ड कप में हमेशा ही पाकिस्तानी टीम के खिलाफ जीत दर्ज की है. भारतीय टीम ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी श्रीलंका को हराकर साल 2011 का वर्ल्ड कप खिताब जीता था. सेमीफाइनल में भारत की भिड़ंत पाकिस्तान से हुई थी. अब हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने इससे जुड़ा बड़ा राज खोला है.

हरभजन सिंह ने खोला बड़ा राज

हरभजन सिंह ने एक कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि मैच में एक समय पाकिस्तानी टीम जीत की तरफ बढ़ रही थी, लेकिन पारी के 33वें ओवर में ड्रिंक्स ब्रेक के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने मुझे विकेट के आस-पास गेंदबाजी करने की सलाह दी, क्योंकि उस समय उमर अकमल बहुत ही शानदार बैटिंग कर रहे थे. भज्जी ने कहा कि मैंने धोनी की सलाह मानकर कातिलाना गेंदबाजी और उमर अकलम गेंद को समझ नहीं पाए और आउट हो गए. इसे मैच का टर्निंग प्वाइंट माना गया.

पहले पांच में की थी खराब गेंदबाजी

हरभजन सिंह ने पाकिस्तान के खिलाफ मैच में पहले पांच ओवर में बहुत ही खराब गेंदबाजी की, लेकिन धोनी की सलाह से वह बेहतरीन गेंदबाजी करने में कामयाब रहे. हरभजन सिंह ने पाकिस्तान के खिलाफ 10 ओवर में 43 रन देकर 2 विकेट हासिल किए. हरभजन सिंह गेंद को टर्न कराने के लिए फेमस रहे हैं.

भारत ने 29 रनों से जीता था मैच

भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ पहले बल्लेबाजी के करते हुए 9 विकेट के नुकसान पर 260 रन बनाए. सचिन तेंदुलकर ने भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाए. उन्होंने 85 रनों की पारी खेली. वहीं, सहवाग ने 38 रन और सुरेश रैना ने 36 रनों की पारी खेली. भारत के सभी पांच गेंदबाजों ने दो-दो विकेट हासिल किए थे. पाकिस्तान की तरफ से कोई बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल पाया और भारत ने 29 रन से मैच जीतकर फाइनल में प्रवेश कर लिया.

error: Content is protected !!