Video: ‘लो पकड़ो मुझे अब नहीं करनी कप्तानी’, BCCI कोषाध्यक्ष ने विराट की कप्तान छोड़ने का खोला सच

Virat Kohli ने इस साल की शुरुआत में साउथ अफ्रीका से टेस्ट सीरीज हारने के बाद हर फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दी थी. जिसके बाद मीडिया में कई तरह के हेडलाइन्स आईं. कुछ का कहना था कि विराट कोहली ने कप्तानी छोड़ी नहीं बल्कि उन्हें भगाया है. जिसके बाद विराट कोहली ने भी अपनी सफाई में कई बातें करी थीं. इस घटना को घटे 7 महीने से ज्यादा हो गया है. अब BCCI के शीर्ष अधिकारी ने खुद आगे आकर पूरा मामला बताया है. BCCI के कोषाध्यक्ष अरुण धूमिल ने अब आगे आकर पूरी कहानी बताई है.

33 वर्षीय विराट कोहली ने बीते वर्ष UAE में खेले गए T20 विश्वकप के बाद नवंबर में कप्तानी छोड़ दी थी. जिसके बाद दिसंबर में BCCI ने उनसे ODI की कप्तानी भी छीन ली थी. जिसके बाद रोहित शर्मा को मुख्य तौर पर कप्तान बनाया गया था. रोहित शर्मा की कप्तानी में टीम इंडिया हालांकि अच्छा कर रही है. मगर जो टीम उनके पास है उसका क्रेडिट आज भी विराट कोहली को ही लोग देते हैं.

BCCI कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने जर्नलिस्ट विमल कुमार से बात करते हुए कहा कि देखिए जहां तक विराट कोहली का सवाल है? तो वो कोई साधारण खिलाड़ी तो हैं नहीं. वो एक दिग्गज और भारत के महानतम कप्तान में से एक हैं. उन्होंने भारतीय क्रिकेट को अद्वितीय योगदान दिए हैं. मीडिया में खबरें आती हैं कि हम लोगों ने उन्हें कप्तानी से हटाया मगर ये उनका खुद का फैसला था. बाहर वाले हमारे बारे में क्या बोलते हैं. इससे हमें कोई भी फर्क नहीं पड़ता है.

वो आगे कहते हैं कि हम चाहते हैं कि विराट कोहली जल्दी फॉर्म में वापस आ जाएं. बाकी टीम में उनके चयन का जिम्मा हमने चयनकर्ताओं पर छोड़ रखा है. चयनकर्ता जो चाहे कर सकते हैं. जहां तक कप्तानी का सवाल है तो वो विराट कोहली का कॉल था. उन्होंने जो सही लगा वो ही किया. उन्होंने खुद ये तय किया कि अब उन्हें कप्तानी नहीं करनी है. हमने उनके फैसले का सम्मान भर किया. अरुण ने आगे कहा कि उन्होंने भारतीय क्रिकेट को जो योगदान दिया है उसकी वजह से क्रिकेट बोर्ड में होर कोई सम्मान करता है.

Read More: England के लिए डेब्यू करेगा तेज गेंदबाज RP Singh का बेटा, श्रीलंका के खिलाफ दिखाएगा टैलेंट

error: Content is protected !!